भाई दूज को भाई-बहन मिलकर करें यह उपाय।।

0
222
Bhai Duj Ko karen ye upay
Bhai Duj Ko karen ye upay

भाई दूज को भाई-बहन मिलकर करें यह उपाय।। Bhai Duj Ko karen ye upay.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, आज भाई दूज अथवा यम द्वितीया का पावन त्यौहार है । आप सभी को इस पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनायें । आज दीपावली पर्व के पांचवे दिन यानी कार्तिक शुक्ल द्वितीया तिथि को भाई दूज का पर्व मनाया जाता है । इस बार यह पर्व 9 नवंबर दिन शुक्रवार को है । यह पर्व भाई-बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक है । मान्यता है कि इस दिन बहन के घर भोजन करने से भाई की उम्र बढ़ती है ।।

आज महारानी देवी यमुना और उनके भाई मृत्यु के देवता यमराज की पूजा का खास महत्व होता है । वैदिक सनातन ग्रंथों के अनुसार, कार्तिक शुक्ल द्वितीया के दिन देवी यमुना ने अपने भाई यम को अपने घर बुलाकर आदर-सत्कार किया साथ ही बड़े प्रेम से तरह-तरह के पकवानों का भोजन कराया था । इसीलिए इस त्योहार को यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है ।।

अपनी लाड़ली बहन देवी यमुना के इस सत्कार से यमराज ने प्रसन्न होकर उनको यह वरदान दिया, कि जो व्यक्ति इस दिन यमुना में स्नान करके यम का पूजन करेगा, मृत्यु के पश्चात उसे यमलोक में नहीं जाना पड़ेगा । सूर्य की पुत्री महारानी यमुना जीवों के समस्त कष्टों का निवारण करने वाली देवी स्वरूपा है ।।

Bhai Duj Ko karen ye upay

उनके भाई महाराज यम मृत्यु के देवता यमराज हैं । यम द्वितीया के दिन यमुना नदी में स्नान करने और वहीं यमुना और यमराज की पूजा करने का बड़ा माहात्म्य माना जाता है ।।

इस दिन बहन अपने भाई को तिलक कर उसकी लंबी उम्र के लिए हाथ जोड़कर यमराज से प्रार्थना करती है । स्कंद पुराण के अनुसार इस दिन यमराज का पूजन करके उनको प्रसन्न करने से पूजन करने वालों को मनोवांछित फल मिलता है । धन-धान्य, यश एवं दीर्घायु की प्राप्ति होती है ।।

सबसे पहले बहन-भाई दोनों मिलकर यम, चित्रगुप्त और यम के दूतों की पूजा करें तथा सबको अर्घ्य दें । बहन भाई की आयु-वृद्धि के लिए यम की प्रतिमा का पूजन करें । प्रार्थना करें कि मार्कण्डेय, हनुमान, बलि, परशुराम, व्यास, विभीषण, कृपाचार्य तथा अश्वत्थामा इन आठ चिरंजीवियों की तरह मेरे भाई को भी चिरंजीवी कर दें ।।

इसके बाद बहन भाई को भोजन कराती हैं । भोजन के बाद बहन भाई को तिलक लगाती हैं । इसके बाद भाई यथाशक्ति बहन को भेंट देता है । जिसमें आभूषण, वस्त्र आदि प्रमुखता से दिए जाते हैं । लोगों में ऐसा विश्वास भी प्रचलित है, कि इस दिन बहन अपने हाथ से भाई को भोजन कराए तो उसकी उम्र बढ़ती है और उसके जीवन के कष्ट दूर होते हैं ।।

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: balajijyotish11@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here