कुण्डली के दुसरे घर में बैठे सूर्य का शुभाशुभ फल ।।

0
92
Chandal Yoga And prabhav

कुण्डली के दुसरे घर में बैठे सूर्य का शुभाशुभ फल ।। Dusare Ghar Me Baithe Surya Ka fal.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, आपकी कुण्डली के द्वितीय भाव में बैठे सूर्य के फल के विषय में आज बात करेंगे । आपकी कुण्डली के दूसरे भाव में स्थित सूर्य आपको समृद्धशाली बनाता है । लेकिन यह तभी होगा जब आप ईश्वर पर विश्वास रखते हों ।।

नास्तिकों के लिए यह संभव नहीं है । ऐसा सूर्य धन संचय में परेशानियां उत्पन्न करता है । दुसरे भाव में स्थित सूर्य आपको कई कामों में दक्षता देता है । आप उम्र के साथ-साथ आत्मनिर्भर होते जाएंगे ।।

Astro classes, Astro Classes Silvassa, astro thinks, astro tips, astro totake, astro triks, astro Yoga

यदि आपका रुझान चित्रकला की ओर होगा तो आप इस कला में महारत हाशिल कर सकते हैं । द्वितीयस्थ सूर्य की यह स्थिति आपके लिये अच्छे वाहन देने का संकेत है । आप सरकार से या सरकारी कामों से धन प्राप्त कर सकते हैं ।।

तांबा, सोना या अन्य धातुओं के व्यापार के माध्यम से भी आप धन कमा सकते हैं । लेकिन द्वितीयस्थ सूर्य आपको चेहरे या मुंह का रोग दे सकता है । आपको चीजों को समझने और अपनी भावनाओं को सही ढंग से औरों के सामने रखने में परेशानी हो सकती है ।।

पारिवारिक संबंधों को लेकर भी मन में असंतोष रह सकता है । आपके ननिहाल के लोग, विशेषकर मामा लोग समृद्ध होंगे । यह स्थिति आपके बेटी के ससुराल पक्ष की खुशहाली की भी संकेतक माना जाता है ।।

यदि आपने अपने खान-पान का उचित ध्यान नहीं रखा तो हो सकता है आपको अपच और उससे संबंधित कुछ अन्य रोग परेशान कर सकते हैं । आपके बच्चे खुशहाल और अच्छे होंगें लेकिन मध्यावस्था में जीवनसाथी का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है ।।

Astro classes, Astro Classes Silvassa, astro thinks, astro tips, astro totake, astro triks, astro Yoga

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here