लैट्रिन और बाथरूम ज्वाइंट नहीं होना चाहिए, आखिर क्यों ?।।

0
283
Aaj ka Panchang 22 October 2019

लैट्रिन और बाथरूम ज्वाइंट नहीं होना चाहिए, आखिर क्यों ?।। Letterin and bathroom joint kyo Nahi Hona Chahiye.

हैल्लो फ्रेंड्सzzzzz.

मित्रों, वास्तुशास्त्र के अनुसार स्नानगृह में चंद्रमा का वास है तथा शौचालय में राहू का । यदि किसी घर में स्नानगृह और शौचालय एक साथ हैं तो चंद्रमा और राहू एक साथ हो जायेंगे ।।

इन दोनों के एक साथ होने से चंद्रमा को राहू से ग्रहण लग जाता है, जिससे चंद्रमा दोषपूर्ण हो जाता है । चंद्रमा के दूषित होते ही कई प्रकार के दोष उत्पन्न होने लगते हैं ।।

चंद्रमा मन और जल का कारक ग्रह है, जबकि राहु विष का कारक गृह है । इस युति से आपके घर के बाथरूम का जल विषाक्त हो जाता है । जिसका प्रभाव सबसे पहले घर के लोगों कि मानसिकता पर होता है ।।

उसके बाद उनके शरीर पर होने लगता है । घर के सभी लोगों में आपसी वैमनस्यता स्वाभाविक रूप से जागने लगती है । हमारे शास्त्रों में चन्द्रमा को सोम अर्थात अमृत कहा गया है और राहु को विष ।।

अमृत और विष दोनों का एक साथ होना उसी प्रकार है जैसे अग्नि और जल । दोनों ही विपरीत तत्व हैं, इसलिए बाथरूम और टॉयलेट एक साथ कभी ना रखें । अगर आपके घर में ऐसा है तो उसे जल्दी ही अलग करवाएं ।।

क्योंकि ऐसा होने पर आपके परिवार में अलगाव होने लगता है । घर के लोगों में सहनशीलता की कमी आने लगती है । मन में एक दूसरे के प्रति द्वेष की भावना स्वाभाविक ही बढ़ने लगती है, जिसका परिणाम तो आप सभी को ज्ञात ही है ।।

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here