आर्थिक परेशानियों को बोलिए बाय।।

0
1535
DHAN PRAPTI TIPS
DHAN PRAPTI TIPS

दरिद्रता, गरीबी, दुःख एवं आर्थिक परेशानियों को बोलिए बाय, करें ये टोटका ।। GARIBI DUKH PARESHANI DUR KARKE AND DHAN PRAPTI TIPS.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, आज के समय में सबको धन-संपत्ति हो चाहिए । सभी को दुनिया का हर ऐशो-आराम, बैंक बैलेंस चाहिए । लेकिन सिर्फ ऐसा चाहने से कुछ नहीं होगा । लेकिन भाइयों बिना कुछ सार्थक प्रयास किये ये सब आसानी से सम्भव नहीं होता है । हाँ अपने कर्तब्य-कर्म के प्रति निष्ठा, ईमानदारी, मेहनत व लगन से अवश्य ही सब कुछ प्राप्त किया जा सकता है ।।

हमारा संस्कृत साहित्य कहता है, कि – भाग्यं फलति सर्वदा न विद्या न च पौरुषम् । अर्थात् विद्या और परिश्रम भी जब न फले वहां मनुष्य का भाग्य फलित होता है । अथवा परिश्रम भी कभी-कभी बेकार हो जाता है, बड़े-बड़े विद्वान् भी कुछ नहीं कर पाते पर जब भाग्य फलित होता है, तब सबकुछ फलित हो जाता है ।।

मानलिया जाय की ये सब फालतू भी हो तो भी इसमें बुराई क्या है ? अगर आप परिश्रमी है तो अच्छी बात है । आप अगर विद्वान् हैं तो ये और भी अच्छी बात है । अगर आप साथ-ही-साथ कुछ और धार्मिक मान्यताओं को अपनाकर हलके-फुल्के उपाय करें तो ये बहुत ही अच्छी बात है न ? तो आइये आज मैं आपलोगों आपके व्यक्तित्व, बुद्धिमता और आपके मेहनत के साथ-ही-साथ कुछ और सार्थक प्रयास करने के मार्ग सुझाते हैं ।।

अगर आप चाहते हैं कि माता लक्ष्मी की विशेष कृपा आपको प्राप्त हो तो इसके लिए कुछ उपाय करें । विधि-विधान से इन उपायों को करने से अत्यंत दरिद्र भी राजा बन जाता है । मित्रों, जीवन में धन की आवश्यकता आज के समय बढ़ती ही जा रही है और सभी के साथ ऐसा ही है । अगर जीवन में धन न हो तो व्यक्ति के जीवन में खुशियां भी बेईमानी लगती है । और यदि धन है तो हर दिन एक नई खुशी होती है ।।

हमारे तंत्र शास्त्र के अंतर्गत कई ऐसे उपाय बताए गए हैं जिन्हें करने से धन की चाह पूरी हो जाती है और जीवन में फिर कभी धन की कमी नहीं होती । तो आइये जानते हैं, कि उपाय करना क्या है ? शनिवार के दिन पीपल का एक पत्ता तोड़कर उसे गंगाजल से धोकर उसके ऊपर हल्दी तथा दही के घोल से अपने दाएं हाथ की अनामिका अंगुली से ह्रीं लिखें । (हल्दी, दही तथा ‘ह्रीं’ ये तीनों महालक्ष्मी से सम्बंधित हैं ।) इसके बाद इस पत्ते को धूप-दीप दिखाकर अपने पर्स अथवा अपनी तिजोरी में रखे लें । प्रत्येक शनिवार को पूजा के साथ वह पत्ता बदलते रहें । यह उपाय करने से आपका पर्स एवं आपकी तिजोरी कभी धन से खाली नहीं होगी । पुराने पत्ते को पीपल के जड़ में, किसी नदी में अथवा किसी पवित्र स्थान पर ही रखें ।।

मित्रों, दूसरा उपाय आपलोगों को ये करना है, कि काली मिर्च के 5 दाने अपने सिर पर से 7 बार उतारकर 4 दाने चारों दिशाओं में फेंक दें तथा पांचवें दाने को आकाश की ओर उछाल दें । यह टोटका करने से आकस्मिक धन लाभ होगा । इसका कारण कभी-कभी किसी की बुरी नजर लग्ने से हमारे हिस्से की संपत्ति भी हमें कठिन परिश्रम के बाद भी नहीं मिलता । काली मिर्च बुरी शक्तियों अथवा बुरी नजरों का प्रतिकारक शक्ति रखनेवाला और उनका नाश करनेवाला वस्तु है ।।

मित्रों, शिव अतुलनीय संपत्ति देने में समर्थ एवं तत्काल प्रशन्न होनेवाले देव हैं । अगर कोई स्वयम्भुव शिवलिंग हो, श्मशान के आस-पास हो तो वहाँ मन्दिर में जाएँ और दूध में शुद्ध शहद मिलाकर शिवजी को प्रतिदिन चढ़ाएं । कम से कम ग्यारह सोमवार बीतने तक लगातार करें । वैसे तो एक हफ्ते में ही इसका असर आपको दिखने लगेगा परन्तु आप लगातार करें । अचानक धन प्राप्ति गड़े हुए धन का दिखना अथवा मिलना या फिर कहीं से कोई बहुत बड़ी गिफ्ट मिलने जैसा कार्य आसानी से भगवान शिव की कृपा से सिद्ध हो जाता है ।।

धन का बचत न हो रहा हो तो धन का बचत करने के लिए अपनी तिजोरी में निचे लाल वस्त्र बिछाएं । उसके उपर गुंजा के बीज रखें इससे धन की बचत होने लगती है । जिस घर में प्रतिदिन श्रीसूक्त और कनकधारा स्तोत्र का पाठ होता है, वहां लक्ष्मी का निवास अवश्य होता ही है माँ लक्ष्मी वहाँ निवास करती ही हैं ।।

“वृश्चिक राशि की कुण्डली की सम्पूर्ण विवेचन, भाग-4.”।।” – My trending video.

“धनु राशि की कुण्डली की सम्पूर्ण विवेचन, भाग-4.”।।” – My Lalest video.

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

वापी ऑफिस:- शॉप नं.- 101/B, गोविन्दा कोम्प्लेक्स, सिलवासा-वापी मेन रोड़, चार रास्ता, वापी।।

वापी में सोमवार से शुक्रवार मिलने का समय: 10:30 AM 03:30 PM

शनिवार एवं रविवार बंद है.

सिलवासा ऑफिस:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

प्रतिदिन सिलवासा में मिलने का समय: 05: PM 08:30 PM

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: balajijyotish11@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here