हथेली देखकर जानिए यौन रोग।।

0
1024
Hast Rekha Me Yaun Rog
Hast Rekha Me Yaun Rog

हथेली देखकर जानिए यौन रोग।। Hast Rekha Me Yaun Rog.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, हमारे वैदिक सनातन धर्म में कई शास्त्र हैं। हमारे यहाँ एक समुद्रशास्त्र भी है। समुद्रशास्त्र के अनुसार मनुष्य के अंग लक्षण और हथेली में खींची आड़ी टेढी रेखाएं और निशान ब्रह्मा के लेख माने जाते हैं। इन रेखाओं और निशान के माध्यम से आप अपना भविष्य जान सकते हैं। आपके जीवन में सुख-दुख, धन संपत्ति, रिश्ते नाते और स्वास्थ्य का क्या हाल रहने वाला है, यह सब जान सकते हैं।।

आइये आज हम यहां हथेली में पाए जाने वाले कुछ ऐसे निशानों के बारे में बात करेंगे। जिनसे पता चलता है, कि व्यक्ति को यौन रोग किस वजह से हो सकता है। मित्रों जिस व्यक्ति की हथेली में शुक्र पर्वत अधिक विकसित होता है उन्हें रक्तचाप, एसिडिटी एवं हृदय रोग की आशंका रहती है। ऐसे व्यक्ति बहुत जल्दी उत्साहित और उत्तेजित हो जाते हैं। इन्हें यौन रोग भी होने की सम्भावना रहती है।।

जिस व्यक्ति की हथेली चमकीली और त्वचा कोमल होती है और उनकी हथेली में शुक्र पर्वत पर अगर रेखाओं का जाल बना हो तो व्यक्ति विपरीत लिंग की ओर अधिक आकर्षित रहता है। इनमें विषय वासना अधिक रहती है। जिसके वजह से इन्हें यौन रोग होने की अधिक संभावना रहती है। समुद्रशास्त्र के अनुसार जिस व्यक्ति की हथेली में शुक्र पर्वत पर तिल या भूरे रंग के धब्बे का निशान होता है उनमें काम भावना प्रबल होती है।।

ऐसे व्यक्ति के भी यौन रोग से पीड़ित होने की अधिक संभावना रहती है। ऐसे लोग बदलते मौसम में यह सर्दी जुकाम से भी जल्दी प्रभावित हो जाते हैं। जिस पुरुष की हथेली में शुक्र पर्वत पर द्वीप का चिन्ह होता है। ऐसे लोग यौन विषय को लेकर सदैव असंतुष्ट ही रहता है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार ऐसा व्यक्ति स्त्रियों द्वारा अपमानित भी होता है। साथ ही किसी भी महिला के साथ इनकी मित्रता लंबे समय तक नहीं टिक पाती है।।

जीवन रेखा का संबध भी रोग से होता है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार हथेली में जीवन रेखा के जिस भाग पर भी यदी द्वीप का निशान हो तो संभव है, कि व्यक्ति को जीवन के उस भाग में गंभीर रोग या कठिन समस्या का सामना करना पड़ सकता है। जीवन रेखा पर द्वीप होने का एक अर्थ यह भी है, कि व्यक्ति को यौन रोग हो सकता है।।

अगर किसी व्यक्ति पेट पर नाभि के नीचे तिल का निशान हो तो उसे यौन रोग होने की आशंका रहती है। इसलिए इन्हें अपने आचार-व्यवहार का ध्यान रखना चाहिए। जिस व्यक्ति की हथेली में शुक्र पर्वत अधिक विकसित और उठा हुआ होता है, वह काफी शौकीन और आराम पसंद होते हैं। इनमें काम भावना भी प्रबल होती है। अगर विकसित शुक्र पर्वत के साथ मस्तिष्क रेखा और उंगलियां मोटी हों तो व्यक्ति बहुत आलसी होता है।।

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

वापी ऑफिस:- शॉप नं.- 101/B, गोविन्दा कोम्प्लेक्स, सिलवासा-वापी मेन रोड़, चार रास्ता, वापी।।

वापी में सोमवार से शुक्रवार मिलने का समय: 10:30 AM 03:30 PM

वापी ऑफिस:- शनिवार एवं रविवार बंद है.

सिलवासा ऑफिस:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

प्रतिदिन सिलवासा में मिलने का समय: 05: PM 08:30 PM

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: balajijyotish11@gmail.com 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here