किस हाथ की रेखाओं में लिखा है आपका भविष्य।।

0
1882
Hastrekha Aur Bhavishy
Hastrekha Aur Bhavishy

कौन सा हाथ देखना चाहिए, किस हाथ में छुपा होता है आपका भविष्य।। Kaun Sa Hath Dekhna Chahiye Hastrekha Aur Bhavishy.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, यद्यपि शुरू से ही इस बात पर बहस होती रही है, कि कौन सा हाथ देखना बेहतर होगा, पर दोनों का अपना महत्व होता है । यह माना जाता है, कि बांया हाथ व्यक्ति की संभावनाओं को प्रदर्शित करता है ।।

परन्तु दाहिना सही व्यक्तित्व का प्रदर्शक होता है । कुछ विद्वानों का कहना है, कि महत्व इस बात का है, कि कौन सा हाथ देखा जाना चाहिए । वस्तुतः दाहिने हाथ से भविष्य और बाएं से अतीत देखा जाता है ।।

Hastrekha Me Shani Ka Prabhav

बायां हाथ बताता है, कि हम क्या-क्या लेकर पैदा हुए हैं ? और दाहिना दिखाता है, कि हमने क्या बनाया या आगे क्या-क्या बना सकते हैं । दाहिना हाथ पुरुषों का देखा जाता है, जबकि महिलाओं का बायां हाथ देखा जाता है ।।

बांया हाथ बताता है, कि ईश्वर ने आपको क्या दिया है ? और दायां बताता है, कि आपको इस संबंध में क्या करना है । बायां हाथ दाहिने मस्तिष्क द्वारा नियंत्रित किया जाता है ।।

जैसे नमूने की पहचान और संबंधों की समझ जिससे व्यक्ति की आंतरिक खासियतों, उसकी प्रकृति, आत्म, स्त्रैण गुण, और समस्याओं के निदान का मार्ग बताता है ।।

इसके विपरीत दाहिना हाथ बांए मस्तिष्क अर्थात तर्क, बुद्धि और भाषा द्वारा नियंत्रित होता है । यह बाहरी व्यक्तित्व, आत्म उद्देश्य, सामाजिक माहौल का प्रभाव, शिक्षा और अनुभव को प्रतिबिंबित करता है ।।

एक हस्तरेखाविद् आमतौर पर व्यक्ति के प्रमुख हाथ से किस्मत पता कर सकते हैं । जिससे वह लिखता है/लिखती है या जिसका सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है ।।

मनुष्य जो कभी-कभी सचेत मन का प्रतिनिधित्व करता है और दूसरा हाथ अवचेतन का संकेत करता है । हस्तरेखा विज्ञान की कुछ परंपराओं में दूसरे हाथ को वंशानुगत या परिवार के लक्षणों को धारण किया हुआ माना जाता है ।।

जिससे अतीत के जीवन या पूर्व जन्म की जानकारी मिलती है । वैसे अधिकतर विद्वान जन पुरूषों का दायां हाथ और महिलाओं का बायां हाथ देखने को ही उपयुक्त मानते हैं ।।

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

वापी ऑफिस:- शॉप नं.- 101/B, गोविन्दा कोम्प्लेक्स, सिलवासा-वापी मेन रोड़, चार रास्ता, वापी।।

वापी में सोमवार से शुक्रवार मिलने का समय: 10:30 AM 03:30 PM

वापी ऑफिस:- शनिवार एवं रविवार बंद है.

सिलवासा ऑफिस:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा।।

प्रतिदिन सिलवासा में मिलने का समय: 05: PM 08:30 PM

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: balajijyotish11@gmail.com 

1 COMMENT

  1. आर्टिकल पढ़कर बहुत कुछ जानने को मिला। लेकिन शादी – विवाह आदि कुछ मामलों में दोनों हाथों को क्यों देखा जाता है? कृप्या उचित मार्गदर्शन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here